नादानियॉं

🌼नीदानियॉं हम करते नहीं हो जाती हैं
राहें वफा पे ना जाने क्यों बेवफ़ाई का ऑचल ओड जाती है1🌼

Advertisements