नादानियॉं

🌼नीदानियॉं हम करते नहीं हो जाती हैं
राहें वफा पे ना जाने क्यों बेवफ़ाई का ऑचल ओड जाती है1🌼

💝Hindi shayari Dil ki aazmaish

क्यों हर बात पे ं रोना आता हैं।

चाहें हँसना फिर भी रोना आता है।

दिल है की ग़म से भरा समन्दर

डुबनें से बचाना चाहें ।

पर याद में तेरी फिर भी इसी में गोंतें लगाएँ । animated-couples-in-love

भोलना चाहें तुझें लेकिन फिर भी यादों में तेंरी

हम हैं घर बसाएँ ।


						

Hindi shayari

राहें वफ़ा मिलती नहीं दिल की चाहत पर क्या करें । अजमाइश हम दिल की ख़्वाहिश पर ।  इस दिल को तो ददं ही मिला है हर अजमाइश पर।

राहें वफ़ा मिलती नहीं दिल की चाहत पर क्या करें । अजमाइश हम दिल की ख़्वाहिश पर ।
इस दिल को तो ददं ही मिला है हर अजमाइश पर।